वाक्य किसे कहते हैं कितने प्रकार होते है

वाक्य किसे कहते हैं? वाक्य के भेद कितने प्रकार के होते हैं? वाक्य की परिभाषा | in Hindi

Vakya kise kahate hain! दो या दो से ज्यादा शब्दों के मेल से किसी समूह का निर्माण हो उसे वाक्य कहते हैं। अन्य शब्दो में – दो या दो से अधिक शब्दों का एक सार्थक समूह, उसे वाक्य कहते हैं। जैसे _ धर्म की जीत होती हैं।

अन्य उदाहरण:

• मानवी कल स्टोर जायेगी।
• मैं आज बाजार जाऊंगा।
• वीरसिंग बाइक चला रहा हैं।
• गंगा पवित्र नदी हैं।

जानें>> वाक्य किसे कहते हैं? भेद, प्रकार, परिभाषा, हिंदी में

 

जाने की, वाक्य के भेद कितने प्रकार के है।

1. अर्थ के आधार 2. रचना के आधार

 

अर्थ के आधार पर वाक्य के भेद

अर्थ के आधार पर देखा जाए तो वाक्य के भेदों को 8 तरह से बांटा गया है जो कि हम नीचे क्रम से बता रहे हैं और उन्हें आप विस्तार पूर्वक भी जान पाएंगे हमारे इस आर्टिकल में।

1. विधान वाचक5. निषेधवाचक
2. इच्छावाचक6. आज्ञावाचक
3. संकेतवाचक7. विस्म्यादिवाचक
4. प्रश्नवाचक8. संदेहवाचक

विधानवाचक वाक्य किसे कहते हैं: Vidhanvachak Vakya kise kahate hain

Vidhanvachak vakya kise kahate hain: जिस आज इस तरह के वाक्यों से किसी तरह की जानकारी प्राप्त होती है उन्हें हम विधानवाचक वाक्य कहते हैं।
जैसे
• दिल्ली एक केंद्रशासित प्रदेश हैं।
• गंगा पवित्र नदी हैं।
• भोपाल मध्यप्रदेश की राजधानी हैं।
• शहद का स्वाद मधुर हैं।
• सबसे विशाल संविधान भारत का हैं।
• मोबाइल में सिम कार्ड हैं।

सर्वनाम किसे कहते हैं! के भेद की परिभाषा

इच्छावाचक वाक्य किसे कहते हैं:

Ikshavachak vakya kise kahate hain: किसी इच्छा, आकांक्षा ya आशीर्वाद का बोध कराते हुए वाक्य इच्छा वाचक वाक्य कहलाते हैं.
जैसे
• भगवान तुम्हे स्वस्थ जीवन प्रदान करें।
• आने वाले दिन आपके लिए मंगलमय हो।
• ईश्वर आपकी सहायता करें।
• आपका दिन मंगलमय हो।
• आप सुखी रहें।

vishva paryavaran divas विश्व पर्यावरण दिवस kab manaya jata hai

संकेतवाचक वाक्य किसे कहते हैं:

Sanketvachak vakya kise kahate hain: किसी वाक्य में संकेत का बोध हो रहा हो, उन्हें हम संकेतवाचक वाक्य कहेंगे। जैसे
जैसे कि:-
• संध्या उधर से आई।
• सूरज डूब रहा हैं।
• ये रास्ता उधर जाता हैं।
• लोकेश का घर इधर हैं।
• आगे पुल हैं।
• आगे स्कूल हैं।

 

प्रश्नवाचक वाक्य किसे कहते हैं:

PrashnVachak vakya kise kahate hain: ऐसे वाक्य जिनमें प्रश्नवाचक बोध हो रहा हो या कोई प्रश्न किया जा रहा हो, उन्हें हम प्रश्नवाचक वाक्य कहेंगे। जैसे
जैसे
• दिल्ली क्या है?
• कृष्ण कहां के राजा है?
• राम के पुत्र कौन है?
• गंगा क्या है?
• कंप्यूटर क्या है?

 

निषेधवाचक वाक्य किसे कहते हैं:

NishedhVachak Vakya kise kahate hain: ऐसी बात कि जिनमें कार्य नहीं होने का भाव आ रहा हो या निषेधवाचक का बोध हो रहा हो उस तरह के वाक्यों को हम निषेधवाचक वाक्य कहते हैं। जैसे
जैसे
• मैंने माखन नहीं खाया.
• राहुल तुम बाजार मत जाओ.
• मुझे कार नहीं चलानी है.
• तालाब खुदाई का कार्य पूरा नहीं हुआ है।

संधि का विलोम शब्द (2022-23)

आज्ञावाचक वाक्य किसे कहते हैं:

AagyaVachak Vakya kise kahate hain: ऐसे वाक्य जिनमें आज्ञा दी जा रही हो या फिर उस तरह की विशेष प्रार्थना की जा रही हो, हम उन्हें आज्ञा वाचक वाक्य कहते हैं। जैसे
जैसे
• शांत रहो।
• कृपया बैठ जाइये।
• कृपया शांति बनाये रखें।
• बैठो।
• जाओ।

 

विस्मयादिबोधक वाक्य किसे कहते हैं:

Vismayadibodhak vakya kise kahate hain: किसी तरह की गहरी अनुभूति का बोध हो उन्हें विस्मयादिबोधक वाक्य बोलते हैं।
जैसे
• अहा! कितना सुन्दर पुल है।
• ओह! कितनी अच्छी मेज़ है।
• बल्ले! हमारी टीम जीत गई।

 

संदेहवाचक वाक्य किसे कहते हैं:

SandehVachak Vakya kise kahate hain: किसी वाक्य को बोलते वक्त किसी संदेह का बोध हो तो उस वाक्य को संदेह वाचक वाक्य कहते हैं.
जैसे
• क्या वह आराध्या आ गई?
• क्या स्वास ने काम कर दिया?
• क्या आप यह कर सकते हो?
• क्या टुडे वो आयेगी?

शब्द किसे कहते हैं Shabd kise kahate hain!

रचना के आधार पर वाक्य के भेद

रचना के तहत वाक्य के निम्नलिखित तीन प्रकार के भेद होते हैं

1] सरल2] संयुक्त3] मिश्रित/मिश्र वाक्य

 

सरल वाक्य किसे कहते हैं:

saral Vakya kise kahate hain: वे वाक्य जिनमें एक ही विधेय होता है। वाक्य सरल वाक्य कहते हैं। इसे साधारण वाक्य भी बोलते हैं। इसे वाक्यों में एक ही प्रकार की क्रिया होती है।
जैसे
• विश्वनाथ पढ़ता है।
• ज्ञानवती ने पानी पिया।
• लक्ष्मण घर गया।
• रावण हार गया।

 

संयुक्त वाक्य किसे कहते हैं:

Sanyukt Vakya kise kahate hain: वे vakya जहां दो या दो से अधिक सरल वाक्य समुच्चय-बोधक अव्ययों से जुड़े होते हैं। संयुक्त वाक्य है। जैसे
उदाहरण:-
• सुधीर सुबह गया और दोपहर को लौट आया।
• धर्म का साथ दो, अधर्म का नहीं।
संयुक्त वाक्य के भी चार प्रकार  हैं

1. संयोजक संयुक्त3. विरोधसूचक संयुक्त
2. विभाजक संयुक्त4. परिमाणवाचक संयुक्त

 

मिश्रित या मिश्र वाक्य किसे कहते हैं:

Mishr Vakya kise kahate hain: एक मुख्य अथवा प्रधान वाक्य हो evam अन्य आश्रित उपवाक्य होतो है। वाक्य मिश्रित वाक्य हैं।

मिश्र वाक्य में एक मुख्य उद्देश्य and मुख्य विधेय के अलावा एक से jyada समापिका क्रियाएँ होती हैं।

उदाहरण :
• यदि महनत करोगे तो, सफल अवश्य होओगे।
• ज्यों ही डॉक्टर ने इलाज किया, मरीज स्वस्थ हो गया।
• मैं जानता हू, कि तुमने आज होम वर्क नहीं किया।


Read Also:
संज्ञा किसे कहते हैं भेद कितने हैं

Leave a Comment

Your email address will not be published.