विषम संख्या किसे कहते हैं

विषम संख्या क्या है?

विषम संख्या, सम संख्या के विपरीत, एक ऐसी संख्या होती है जिसे 2 से पूरी तरह से विभाजित नहीं किया जा सकता है। दूसरे शब्दों में, जब आप इसे 2 से विभाजित करते हैं, तो आपको शेषफल 1 मिलता है।

विषम संख्याओं के कुछ उदाहरण:

  • 1
  • 3
  • 5
  • 7
  • 9
  • 11
  • 13
  • 15
  • 17
  • 19

विषम संख्याओं के गुण:

  • सभी विषम संख्याएँ 1 से अधिक होती हैं।
  • यदि आप किसी विषम संख्या में 2 जोड़ते हैं, तो आपको एक सम संख्या मिलेगी।
  • यदि आप किसी सम संख्या में 1 जोड़ते हैं, तो आपको एक विषम संख्या मिलेगी।
  • यदि आप दो विषम संख्याओं को जोड़ते हैं, तो आपको एक सम संख्या मिलेगी।
  • यदि आप दो विषम संख्याओं को घटाते हैं, तो आपको एक सम संख्या मिलेगी।
  • यदि आप किसी विषम संख्या को 2 से गुणा करते हैं, तो आपको एक सम संख्या मिलेगी।
  • यदि आप किसी विषम संख्या को 2 से भाग देते हैं, तो आपको शेषफल 1 मिलेगा।

विषम संख्याओं का उपयोग:

  • विषम संख्याओं का उपयोग अक्सर गणितीय समस्याओं में किया जाता है।
  • विषम संख्याओं का उपयोग अक्सर गणितीय खेलों में भी किया जाता है।
  • विषम संख्याओं का उपयोग अक्सर रोजमर्रा की जिंदगी में भी किया जाता है।

उदाहरण:

  • यदि आपके पास 5 अंडे हैं, तो आप उन्हें 2 लोगों में समान रूप से नहीं बाँट सकते।
  • यदि आपके पास 7 पेंसिल हैं, तो आप उन्हें 3 लोगों में समान रूप से बाँट सकते हैं।
  • यदि आप किसी खेल में 3 अंक प्राप्त करते हैं, तो आप उस खेल को जीत नहीं सकते।

इसे भी पढ़ें : सम संख्या किसे कहते हैं

निष्कर्ष:

विषम संख्याएँ सम संख्याओं के विपरीत होती हैं। वे 1 से अधिक होती हैं और उन्हें 2 से पूरी तरह से विभाजित नहीं किया जा सकता है। विषम संख्याओं का उपयोग अक्सर गणितीय समस्याओं, खेलों और रोजमर्रा की जिंदगी में किया जाता है।