संज्ञा के भेद ! sangya ke bhed

संज्ञा बहुत आम तौर पर पहचाना जाने वाला शब्द है। आपको बतादें के आज आपकी इस पोस्ट में संज्ञा के भेद देखने को मिलेंगे। अतिरिक्त ज्ञान के तहत हम संज्ञा की परिभाषा और संबंधित प्रश्न भी जानेंगे।

तो चलिए अब हम इस पोस्ट में अंर्तगत पहले संज्ञा के sangya ke bhed को जान लेते है।

संज्ञा के भेद – sangya ke bhed

यह 5 प्रकार की होती है

1. व्यक्तिवाचक संज्ञा
2. जातिवाचक संज्ञा
3. समूहवाचक संज्ञा
4. द्रव्यवाचक संज्ञा
5. भाववाचक संज्ञा

आपने ऊपर संज्ञा के मुख्य भेद जान चुके है। लेकिन अभी भी आपने हमारे वेबसाइट पर संज्ञा की परिभाषा भी पढ़ी है। आगे हम संज्ञा की परिभाषा लिख रहे है।

संज्ञा की परिभाषा = किसी व्यक्ति, वस्तु, स्थान के नाम को, हम संज्ञा कहते हैं।

आशा करते है आप इतने से परिभाषा से संज्ञा के ज्ञान को समझ गए होंगे। लेकिन अभी भी यदि आप चाहते गई की विस्तार से जाने तो आप ये पोस्ट पढ़े। – संज्ञा की परिभाषा

FAQs

संज्ञा किसे बोलते है।

किसी जाति, द्रव्य, व्यक्ति, स्थान और भाव इत्याद के नाम को संज्ञा बोलते हैं।

व्यक्तिवाचक संज्ञा किसको कहते हैं।

जिन संज्ञा शब्दों से किसी व्यक्ति विशेष के नाम का बोध हो, उसे व्यक्तिवाचक संज्ञा कहते हैं।

किसे कहते हैं, द्रव्यवाचक संज्ञा

जब किसी संज्ञा शब्द से किसी द्रव्य का भाव आए, तो उसे द्रव्यवाचक संज्ञा कहते हैं।

जातिवाचक संज्ञा के उदाहरण

जातिवाचक संज्ञा के उदाहरण में मुख्य मनुष्य, घोड़ा, फूल, वृक्ष इत्यादि।

निष्कर्ष

समास किसे कहते है वाला पोस्ट पढ़ सकते है। अब आपको हमारा ये संज्ञा से संबंधित लेख कैसा लगा कॉमेंट बॉक्स में शब्दों सहित घुसा दें। इसके अलावा कुछ अन्य टोपीक हम रिलेटेड पोस्ट सेक्शन में दे रहे है। आप उनमें से सिर्फ एक को जरूर पढ़ें।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *