पर्यायवाची शब्द 9, जानिए सही जवाब!

पर्यायवाची शब्द

  • देवता — आदित्य, अमर, निर्जर, सुर, त्रिदश, देव, गीर्वाण, वसु, अमर्त्य, अदितिनंदन, अस्वप्न, आदितेय, दैवत, लेख, अजर, विबुध।
  • रोम — रोयाँ, बाल, लोम।
  • अमीर — धनवान, धनी, संपन्न, पैसेवाला।
  • ठन-ठन गोपाल — दरिद्र, निर्धन, गरीब, अकिंचन।
  • मराल — सितपक्ष, हंस, राजहंस, धवलपक्ष।
  • छतरी — छत्र, छाता।
  • खग — अण्डज, विहग, शकुनि, पक्षी, पखेरू, द्विज, नभचर।
  • उग्र — तीव्र, तेज, विकट, प्रचण्ड, उत्कट, महादेव।
  • उद्देश्य — निमित्त, लक्ष्य, हेतु, मकसद, प्रयोजन, ध्येय।
  • घमंड — गुमान, गर्व, अभिमान, दंभ, अहंकार, दर्प, गरूर।
  • आकाश — गगन, अनन्त, पुष्कर, अन्तरिक्ष, नभ, शुन्य, अम्बर, अभ्र, व्योम।
  • नदी — आपगा, शौवालिनी, निम्रगा, तनूजा, कूलंकषा, सरित, तटिनी, स्रोतस्विनी, सारंग, सरि, जयमाला, तरंगिणी, दरिया, निर्झरिणी।
  • कुत्सित — अधम, खराब, निकृष्ट, बुरा, गर्हित, नीच, घृणित, हेय, लम्पट।
  • अग्नि — ज्वाला, जातदेव, वायुसख, धन्नजय, दहन, हुताशन, ज्वलन, वैश्वानर, रोहिताश्व, कृषानु, वहिन, आग, अनल, पावक, दव, धूम्रकेतु।
  • ऋण — उधार, कर्ज, कर्जा, उधारी।
  • ब्रह्मा — चतुरानन, प्रजापति, विरंचि, विधाता, अज, स्वयंभू, पितामह।
  • कमल — पद्म, उत्पल, पंकज, नलिन, नीरज, अरविंद, सरोज, राजीव, जलजात, जलज, शतदल, पुण्डरीक, इन्दीवर।
  • हिरन — सुरभी, मृग, हरिण, सारंग, कुरंग।
  • ParyayWachiSabad
  • भंगुर — मर्त्य, अनित्य, विनश्वर, नाशवान, नश्वर, क्षर।
  • मरघट — श्मशान, मसान, मुर्दघाट, श्मशानघाट।
  • रात्रि — रजनी, निशा, शर्वरी, रात, क्षणदा, यामिनी, रैन, विभावरी।
  • जल — उदक, तीय, पानी, वारि, जीवन, नीर, पय, अम्बु, पेय।
  • गगन — अंतरिक्ष, नभ, आसमान, आकाश, व्योम।
  • घृत — नवनीत, घी, अमृत।
  • छोह — ममता, दुलार, मोहब्बत, स्नेह, प्रेम, प्यार।
  • युग — कल्प, मन्वंतर, जमाना, जुग, दौर, काल।
  • अगुआ — नायक, मुखिया, अग्रणी, सरदार, प्रधान।
  • उनींदा — ऊँघना, तंद्रालु, निंदासा, निद्राप्रवण, निद्रालु।
  • अधर — अोष्ठ, रदच्छद, रदपुट, अोठ।
  • पुत्री — तनुजा, तनया, नन्दिनी, सुता, दुहिता, बेटी, आत्मजा।
  • बिजली — चपला, चंचला, दामिनी, घनप्रिया, तड़ित, इन्द्र्वज्र, विद्युत, सौदामनी।
  • आक्षेप — दोषारोपण, इल्जाम, आरोप, अभियोग।
  • चना — छोला, चणक, रहिला।
  • यज्ञोपवीत — ब्रह्मसूत्र, जनेऊ, उपवीत।
  • अध्यापक — गुरु, आचार्य, शिक्षक, अवबोधक।
  • गाय — दोग्धी, सुरभि, रोहिणी, गौ, धेनु, भद्रा।
  • ह्रदय — उर, वक्षस्थल, छाती, वक्ष, हिय।
  • लड़का — कुमार, सुत, बालक, शिशु, किशोर।
  • षंड — नामर्द, हीजड़ा, नपुंसक।
  • सर्प — उरग, भुजंग, व्याल, नाग, विषधर, भुजग, अहि, पन्नग, फणधर, फणी।
  • पत्नी — प्राणप्रिया, बेगम, वधू, भार्या, वामा, दारा, अर्धांगिनी, कलत्र, गृहणी, सहधर्मिणी, बहु, वनिता, जोरू, वामांगिनी।
  • आतंक — उपद्रव अतिभय, दहशत, भीषिका, संत्रास।
  • आँचल — कोना, छोर, कोर, पल्ला, दामन।
  • बाँसुरी — मुरली, वेणु, बंशी, बंसुरी।
  • आम — अमृतफल, सौरभ, सहुकार, रसाल, आम्र, मादक।
  • ओझल — तिरोहित, विलुप्त, विलोचन, गायब, अन्तर्धान, अदृश्य, लुप्त।
  • बादल — वारिद, अम्बुद, जलधर, पयोद, नीरद, जलज, पयोधर, मेघ, वारिधर।
  • देशाटन — पर्यटन, यात्रा, विहार, देशभ्रमण।
  • तालाब — पोखरा, सर, जलवान, सरोवर, सरसी, जलाशय, पुष्कर।
  • पण्डित — धीर, कोविद, मनीषी, सुधी, प्राज्ञ, विद्वान, विचक्षण, बुध।
  • ऐच्छिक — इच्छा का, सावकल्प, अख्तियारी, वैकल्पिक, स्वेच्छाकृति, पसन्द का।
  • हेमा — वसुधा, धरा, वसुंधरा, भू, पृथ्वी, भूमि, धरती।
  • अभिलाषा — इच्छा, कामना, मनोरथ, चाह।
  • कान — श्रुतिपटल, कर्ण, श्रुति।
  • बलिदान — जीवनदान, क़ुरबानी, आत्मोत्सर्ग।
  • ठुड्डी — चिबुक, ठुड्डी, हनु, ठोड़ी।
  • ज्ञानी — ज्ञानवान, आलिम, विद्वान, सुविज्ञ, विवेकी।
  • भंडारी — महाराज, रसोइया, खानसामा, रसोईदार।
  • आशय — मतलब, भाव, अर्थ, तात्पर्य, आशय, अभिप्राय।
  • चातक — पपीहा, सारन, मेघजीवन, स्वातीभक्त।
  • तीर — अनी, शर, बाण, सायक।
  • हंस — सिपपक्ष, कलकंठ, मराल, मानसौक।
  • अमर — अजर-अमर, चिरंजीवी, अनश्वर।
  • ठिंगना — नाटा, बौना, वामन।
  • चतुरानन — सृष्टा, विधाता, ब्रह्मा, सृष्टिकर्ता।
  • जाँघ — रान, जघन, उरु, जानु, जंघा।
  • फल — फलम, बीजकोश।
  • मंजूषा — पेटी, पिटारी, झाँपी, संदूक, बक्स, पिटक।
  • मोर — नीलकंठ, केक, कलापी, नर्तकप्रिय।
  • अर्चना — पूजन, आराधना, पूजा, अर्चन।
  • उपवास — लंघन, व्रत, फाका, निराहार, अनशन।
  • झण्डा — ध्वज, केतु, ध्वजा, पताका, केतन।
  • प्राण — जान, जीव.।
  • कान — कर्ण, श्रवण, श्रुतिपट, श्र्वानेंद्रिय।
  • बाधा — रोड़ा, विघ्न, रुकावट।
  • गाफिल — असावधान, बेखबर, बेपरवाह।
  • तड़ाग — तालाब, जलाशय, सरोवर, पोखर।
  • दास — अनुचर, सेवक, भृत्य, नौकर, किंकर, चाकर, परिचारक।
  • पत्ता — पर्ण, पाती, पत्ती, पात, पल्लव।
  • पवन — मारुत, समीर, अनिल, वायु, हवा, वात।
  • धंधा — कामधंधा, आजीविका, उद्योग, व्यवसाय।
  • खरगोश — खरहा, शशक, शशा।
  • कल्याण — उपकार, भलाई, परहित, भला।
  • शहद — मकरन्द, आसव, पुष्परस, मधु, रस।
  • बहेलिया — व्याध, अहेरी, शिकारी।
  • निरादर — अवज्ञा, अवहेलना, अपमान, उपेक्षा, तिरस्कार।
  • खल — घूर्त, दुर्जन, दुष्ट, कुटिल।
  • गर्भाशय — उदर, बच्चेदानी, गर्भ, पेट, जठर।
  • गुरु — भारी, शिक्षक, बड़ा, वृहस्पति।
  • दादा — आजा, पितामह, बाबा।
  • दरिद्र — दीन, रंक, निर्धन, गरीब, कंगाल।
  • गिरिराज — गिरीश, पर्वतेश्वर, गिरींद्र, हिमालय, पर्वतराज, शैलेंद्र।
  • जोहड़ — जलाशय, तड़ाग, तालाब, तलैया, सरोवर।
  • कल्पवृक्ष — पारिजात, कल्पलता, कल्पतरु, देवतरु, देववृक्ष।
  • अदालत — दंडालय, कचहरी, न्यायालय।
  • घर — निकेतन, गेह, निलय, आलय, निवास, आवास, भवन, गृह, वास-स्थान, वास, शाला, सदन।
  • आम — कामशर, आम्र, रसाल।
  • जय — विजय, जीत, फतह।
  • अश्व — तुरंग, घोड़ा, हय, बाजी —

पर्यायवाची शब्द ! Paryayvachi Shabd

 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15 16 17